ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• दस्तावेजों में हुआ खुलासा, अनिल कुंबले ने पेश की थी ये बड़ी डिमांड।
• ट्रैफिक पुलिस के इस हरकत से बुमराह को आया गुस्सा, जानिये क्या है पूरा मामला
• पीएम मोदी के मुरीद हुआ कांग्रेस का ये बड़ा नेता, गडकरी को बताया विकास पुरुष
• राजद नेता ने तेजप्रताप पर लगाया ये संगीन आरोप, कहा -मुझे धक्का देकर और…
• मोदी के दौरे से पहले ट्रंप ने दिया PAK को झटका, छीन सकता है सहयोगी देश होने का दर्जा।
• योगी सरकार को बड़ा झटका, हाई कोर्ट ने अखिलेश के इन चहेतों को किया बहाल।
• विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार मीरा कुमार को लेकर CM योगी दिया ये बड़ा बयान।
• अंतरिक्ष में ISRO की एक और बड़ी कामयाबी, PM मोदी और राहुल गाँधी ने दी बधाई।
• महागठबंधन में दरार, नीतीश के फैसले पर लालू यादव ने दिया ये बड़ा बयान।
• कश्मीर :जामिया मस्जिद के बाहर भीड़ ने DSP की पीट-पीटकर कर दी ह्त्या।
• कुंबले-कोहली विवाद में अब कूदे सौरव गांगुली…. कही ये बड़ी बात।
• भारत के बाद अब नेपाल में बाबा रामदेव को झटका, ये 6 प्रोडक्ट लैब में हुए फेल।
• बेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाले मैच के पहले कोहली ने किया ये खुलासा, आलोचकों के मुंह पर लगा ताला।
• विराट कोहली के लिए पानी आता है फ्रांस से, एक बोतल की कीमत जान होश उड़ जायेंगे।
• लालू ने नीतीश कुमार को दी सलाह, कहा -ऐतिहासिक भूल मत कीजिये।

पाकिस्तान ने ऐसा क्या कह दिया कि चीन ने उसकी जमकर बेइज्जती कर दी।

पाकिस्तान भी भारत की ही तरह अपने देश में बुलेट ट्रेन चलाने के लिए चीन से बात की लेकिन, चीन का जवाब ऐसा था जिसकी उम्मीद शायद ही उसने की हो।

नई दिल्ली, 08 दिसंबर :अगर आपको लगता हैं चीन और पाकिस्तान बहुत अच्छे दोस्त हैं और चीन किसी भी कीमत पर पाकिस्तान का साथ देगा, तो आप गलत हैं। क्योंकि, इस मामले को देखने के बाद ऐसा ही लगता हैं। चीन पाकिस्तान को नीचा दिखाने का कोई भी मौका अपने हाथ से जाने नहीं दे रहा हैं। आखिर ऐसा क्या हुआ जो पहले दोस्ती की बात किया करते थे अब वो उसकी बेइज्जती कर रहे हैं।

Advertisement

दरअसल, पाकिस्तान भी भारत की ही तरह अपने देश में बुलेट ट्रेन चलाने के लिए चीन से बात की। लेकिन, चीन का जवाब ऐसा था जिसकी उम्मीद शायद ही पाकिस्तान ने की हो। चीन ने पाक की जमकर बेइज्जती करते उससे साफ कह दिया कि उसके यहां बुलेट ट्रेन नहीं चल सकती। जो ट्रेन हैं उसे ही संभाल लो। इतना ही नहीं चीन ने पाकिस्तान की इस बात का हंसते हुए इंकार कर दिया था। bullet-train-lइस बात की जानकारी किसी और ने नहीं बल्कि खुद पाकिस्तान के रेल मंत्री ख्वाजा साद रफीक ने नेशनल असैंबली को बताई थी।

रफीक ने नेशनल असेम्बली के सामने यह बात कही थी कि उसके देश पाकिस्तान के पास इतना पैसा नहीं है कि वह खुद से बुलेट ट्रेन चला सकें। इसके लिए उन्हें अपने मित्र देश चीन से बात करने की जरुरत थी। उन्होंने कहा कि, ‘जब हमने चीन से बुलेट ट्रेन के बारे में बात की तो चीन हमारे ऊपर हंसने लगा और इतना ही नहीं चीन ने हमें यह भी सलाह दी कि हम बुलेट ट्रेन का सपना देखना बंद कर दें।’ उन्होंने आगे बताया कि ‘चीन ने कहा कि उसके यहां बुलेट ट्रेन शब्द तो बोलने के लिए सही है, लेकिन सच्चाई हैं कि पाकिस्तान में बुलेट ट्रेन लाना संभव नहीं है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘चीन ने कहा बुलेट ट्रेन तो नहीं, लेकिन बुलेट ट्रेन जैसी एक और ट्रेन CPEC प्रोजेक्ट के तहत लाई जा सकती है, जो चीन-पाक के बीच 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। इसको बनने में 15 साल का समय लगेगा और 46 बिलियन डॉलर का खर्चा आएगा।

गौरतलब हैं कि भारत जापान की मदद से से बुलेट ट्रेन चलाने की कोशिशों में लगा हुआ है। 2018 में मुंबई व अहमदाबाद के बीच हाइस्पीड बुलेट ट्रेन मार्ग का निर्माण कार्य शुरू भी हो जाएगा। इसी को देखते हुए पाकिस्तान ने भी सोचा कि वह अपने देश में बुलेट ट्रेन ला सकता है। लेकिन अपने मित्र चीन की बात सुनकर उसके होश ही उड़ गए। उसे ज़रा भी यकीन नहीं था कि उसका करीबी दोस्त उसके बारे में ऐसी बातें करेगा।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles