इस खूबसूरत लड़की से डरा खूंखार बगदादी, रखा 7 करोड़ का इनाम।

Advertisement

दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी संगठन ISIS का सरगना अबु-बक्र-अल-बगदादी इस खूबसूरत हसीना से डरा हुआ हैं, उस खूबसूरत हसीना के सर पर 7 करोड़ का इनाम भी रखा हैं।

नई दिल्ली, 21 दिसंबर :दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी संगठन ISIS का सरगना अबु-बक्र-अल-बगदादी इन दिनों डरा हुआ है। उसे हर पल मौत के साये में जी रहा हैं। लेकिन, इस बार इसके डर का कारण कोई खुफिया एजेंसी या कहीं की मिलिट्री नहीं बल्कि एक लड़की है। खबरों की माने तो बगदादी ने इन दिनों एक लड़की से डरा हुआ है और चाहता है कि इस लड़की की सांसे जल्द से जल्द रोक दी जाएं ताकि उसके आतंक का साम्राज्य चलता रहे। इतना ही नहीं ISIS के इस खूंखार आतंकी ने उस खूबसूरत हसीना के सर पर 7 करोड़ का इनाम भी रखा हैं।

Advertisement

दरअसल, बगदादी जिस लड़की से डरा हुआ हैं उसका नाम जोआना पलानी हैं जिसकी उम्र मात्र 23 साल हैं। वो पलानी ने कुर्द लड़ाकों के साथ बगदादी के आतंकियों के खिलाफ लगातार लड़ाई लड़ रही हैं। पलानी ने अब तक न जाने कितने आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया हैं। बगदादी ने पलानी पर करीब सात करोड़ का इनाम रखा है और कहा कि जो पलानी को मौत के घाट उतारेगा वह उसे सात करोड़ रुपया देगा। दरअसल, पलानी की ख़ूबसूरती और उसके द्वारा आतंकियों के खिलाफ खतरनाक मंसूबों से बगदादी डरा हुआ हैं। उसे डर सता रहा हैं कि अगर जल्द उसे मारा नहीं गया तो वह उसके साम्राज्य को बर्बाद कर देगी। इसीलिए बगदादी ने पलानी पर करीब सात करोड़ का इनाम रखा है और कहा कि जो पलानी को मौत के घाट उतारेगा वह उसे सात करोड़ रुपया देगा।

Advertisement

कौन हैं जोआना पलानी – 23 वर्षीय जोआना पलानी मूल रूप से डेनमार्क की रहने वाली हैं। उसने करीब डेढ साल पहले कॉलेज छोड़ दिया और आर्मी ट्रेनिंग लेकर सीरिया में बगदादी के आतंकियों से लड़ने पहुंच गई। पलानी ने यहां कुर्द लड़ाकों के साथ मिलकर बगदादी और उसके आतंकियों के खिलाफ जंग शुरू कर दी। joanna-palaniइस दौरान पलानी ने ट्रेनिंग ली और बगदादी के कई आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया। सीरिया से लौटने के बाद पलानी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि जब मैं पहली बार सीरिया गई तो मैं जंग लड़ने के लिए इतनी गंभीर नहीं थी।

उसने बताया कि जब मेरे सामने आतंकियों के हमले हुए तो मैं बदल गई। जिसके बाद मैंने ट्रेनिंग ली और जंग में पाया कि ISIS के आतंकियों को मारना आसान होता है। इतना ही नहीं पलानी ने कुर्द लड़ाकों के साथ सीरिया में जंग लड़ने के दौरान कहा था कि कुर्द लड़ाके लोकतंत्र के लिए लड़ रहे हैं और अगर मैं पकड़ी गई या मारी गई तो मुझे खुद की मौत पर गर्व होगा। लेकिन इस लड़की को आतंक के खिलाफ जंग छेड़ने की बड़ी कीमत अपने ही देश डेनमार्क में चुकानी पड़ रही है। बगदादी के खिलाफ जंग लड़ने की वजह से पलानी को उसी के देश डेनमार्क में जेल भेज दिया गया है।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-

Related Articles