ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• मां ने बेटे से कहा -तुम बड़े हो गए हो मेरे पति की कमी पूरी करो और फिर हुआ ये।
• पिता के इलाज के लिए बच्ची ने PM मोदी को लिखा लेटर, तो CM योगी ने दिया ये जवाब।
• JDU राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाये गये नीतीश कुमार, लालू के साथ फिर होगा JDU का महागठबंधन।
• शाहरुख़ या सलमान नहीं बल्कि इस बॉलीवुड एक्टर को डेट करना चाहती है ये दिग्गज खिलाड़ी।
• 16 साल के लड़के पर आया मैडम का दिल, राज खुला तो उठाया ये बड़ा कदम।
• पाकिस्तानी पुलिसवाले ने कोहली को किया शादी के लिए प्रपोज, लोगों ने लगा दी क्लास।
• पीएम मोदी ने आडवाणी को क्यों दी सजा, इस बड़े नेता ने किया चौंकाने वाला खुलासा।
• सलमान नहीं बल्कि इस शख्स के लिए पागल थी ऐश्वर्या, नाम जान होश उड़ जाएंगे।
• ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में पांड्या ने की धुलाई तो धोनी ने रच दिया इतिहास।
• जिन स्त्रियों के शरीर के ये अंग बड़े होते है, वो मर्दो के लिए होती है भाग्यवान।
• रेलवे ने बनाया ऐसा नियम… जानकर आपकी नींद उड़ जायेगी।
• नहीं रहे 1965 के जंग के ये जांबाज योद्धा, पीएम मोदी ने ये बात कह दी श्रद्धांजलि।
• बहन की इन हरकतों से परेशान था भाई, प्रेग्नेंट पत्नी संग उठाया ये खौफनाक कदम।
• सैलरी बढ़ाने के बाद मोदी सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को दिया ये तगड़ा झटका।
• 15 साल की किशोरी ने दिया बच्चे को जन्म, बाप का नाम सुन उड़ जायेंगे होश।

8वीं फेल होने के बाद शौक को ही बनाया कॅरियर, आज CBI से लेकर अमूल तक चलती है इनके इशारे पर।

हमारे समाज के बीच कई ऐसे लोग है जो पढ़ाई में असफल होने के बावजूद ऐसे कारनामे कर दिखाए है जो औरों के लिए मिसाल है। 

नई दिल्ली, 6 सितंबर :कम्प्यूटर में गहरी दिलचस्पी। इस वजह से पढ़ाई के दौरान एग्जाम में फेल भी हो गए। घर वालों ने नाराजगी जताई। लेकिन इस लड़के की जिद अलग थी। कुछ नया, पर अपने मन की करना। उन्होंने कर दिखाया। तभी तो महज 23 साल की उम्र में त्रिशनित अरोड़ा नाम का ये लड़का अब करोड़ों का कारोबार करता है। ऐसा बिजनेस जिसे आमतौर पर लोग नहीं जानते हैं। हाल ही में दिए एक इंटरव्यू के बाद त्रिशनित चर्चा में हैं।

Advertisement

आपको बता दें, त्रिशनित एक एथिकल हैकर हैं। एथिकल हैकिंग में नेटवर्क या सिस्टम इन्फ्रास्ट्रक्चर की सिक्युरिटी इवैल्युएट की जाती है। सर्टिफाइड हैकर्स इसकी निगरानी करते हैं, ताकि कोई नेटवर्क या सिस्टम इन्फ्रास्ट्रक्चर की सिक्युरिटी तोड़कर कॉन्फिडेन्शियल चीजें न तो उड़ा सके और न ही वायरस या दूसरे मीडियम्स के जरिए कोई नुकसान पहुंचा सके।

लुधियाना के एक मिडिल क्लास में पैदा हुए त्रिशनित अरोड़ा की पढ़ाई में कम और कंप्यूटर में ज्यादा दिलचस्पी थी। वे पूरे दिन कंप्यूटर में हैकिंग का काम सीखते थे जिस वजह से पढ़ाई नहीं कर पाते थे, यही कारण वे 8वीं कक्षा में फेल हो गए थे। त्रिशनित बताते हैं कि कंप्यूटिंग पढ़ने में मैं इतना मगन हो गया कि बाकि विषयों की पढ़ाई में ध्यान नहीं दे पाया। यही वजह है कि दो पेपर नहीं दिए और फेल हो गया। रिजल्ट आने के बाद माता-पिता से डांट से सुना लेकिन, कंप्यूटर में अपनी रूचि बनाये रखा। साथ ही रेगुलर पढ़ाई छोड़कर 12वीं तक कॉरेस्पोंडेंस से पढ़ाई करने का फैसला किया।

त्रिशनित ने कंप्यूटर में ही करियर बनाने का निश्चय किया और हैकिंग के बारे में लगातार नई जानकारियां भी इकट्‌ठा करते रहे। शुरुआत में उन्हें कोई गंभीरता से नहीं ले रहा था लेकिन, उन्होंने हैकिंग में अपनी पकड़ को मजबूत बनाते हुए साबित कर दिया कि कैसे विभिन्न कंपनियों का डाटा चुराया जा रहा है और वर्तमान में हैकिंग के क्या तरीके इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

धीरे-धीरे उनके काम को मान्यता मिलने लगी और हैकिंग की दुनिया में इनका नाम होना शुरू हो गया। आपको बता दें, त्रिशनित ने महज 21 साल की उम्र में साइबर सिक्युरिटी फर्म की आधारशिला रखी थी। धीरे-धीरे त्रिशनित अपने काम में प्रसिद्धि कमाते हुए अब रिलायंस, सीबीआई, पंजाब पुलिस, गुजरात पुलिस, अमूल और एवन साइकिल जैसी कंपनियाें को साइबर से जुड़ी सर्विसेज दे रहे हैं।
इतना ही नहीं ‘हैकिंग टॉक विद त्रिशनित अरोड़ा’ ‘दि हैकिंग एरा’ और ‘हैकिंग विद स्मार्टफोन्स’ जैसी किताबें लिख चुके हैं। आपको बता दें, त्रिशनित की कंपनी टीएसी आज दुनियाभर के 50 फॉर्च्यून और 500 से ज्यादा कंपनियों को अपना क्लाइंट बनाया है। इनका दुबई और यूके में भी ऑफिस है। कंपनी का सालाना टर्नओवर कई करोड़ रूपये में है।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles