ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

अपर्णा के बाद अब शिवपाल यादव ने की CM योगी से मुलाकात, मुलायम की बढ़ी मुश्किल।

मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव की मुलाकात के चंद दिनों के भीतर ही आज सपा नेता शिवपाल यादव ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की।

नई दिल्ली, 5 अप्रैल: यूपी विधानसभा चुनाव से पूर्व समाजवादी पार्टी में मचे घमासान चुनाव में मिली करारी हार के बाद भी शांत नहीं हुआ है। कुछ दिन पहले ही मुलायम सिंह ने अखिलेश यादव पर हार का ठीकरा फोड़ते हुए कहा था कि जो बेटा बाप का नहीं हुआ वह जनता का कैसे होगा। उन्होंने कहा था कि आज तक पार्टी में उनका इतना अपमान कभी नहीं हुआ, पार्टी की इतनी बड़ी हार कभी नहीं हुई थी। मुलायम और अपर्णा के बाद शिवपाल ने भी हार का ठीकरा अखिलेश पर फोड़ा था। उन्होंने कहा था कि जिसे बिना मेहनत किए कुर्सी मिल जाती है, वे जिम्मेदारी नहीं निभा पाते।

Advertisement

इससे पहले मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव और छोटे बेटे प्रतीक यादव ने भी योगी आदित्यनाथ से मुलाक़ात की थी। इसके बाद सीएम योगी प्रतीक और अपर्णा की ओर से आवारा जानवरों के लिए चलाए जा रहे कान्हा उपवन भी गए थे। उनके साथ डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा भी साथ थे। योगी ने काफी समय कान्हा उपवन में गुजारा और गायों को चारा खिलाया। आपको बता दें, विधानसभा में बीजेपी की जीत से योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने तक अपर्णा यादव उनसे तीन बार मुलाकात कर चुकी हैं। अपर्णा ने जिस तरह से सीएम से मुलाक़ात की उसके कई सियासी मायने निकाले गए थे और अब शिवपाल यादव भी सीएम योगी से मिलने सीएम आवास 5 कालिदास मार्ग पहुंचे।

इस मुलाक़ात को लेकर सियासी गलियारों में अटकलों का बाजार गर्म है। किसानों का कर्ज माफ करने के फैसले के बाद सीएम योगी से अपोजिशन के किसी नेता की ये पहली मुलाकात है। राजनीतिक जानकार और वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप कपूर और ज्ञानेंद्र शुक्ला ने योगी और शिवपाल की मुलाकात के पीछे ये 3 कारण हो सकते है। जानकारों के मुताबिक, अगर शिवपाल और बीजेपी में से कोई भी एक दूसरे में इंटरेस्टेड है तो फिर रिवर फ्रंट जैसे घोटाले से भी शिवपाल बच सकते हैं। आपको बता दें, अखिलेश सरकार में सिचाई और पीडब्ल्यूडी विभाग शिवपाल के पास ही थे। उनकी निगरानी में रिवर फ्रंट और कई बड़ी सड़कों का काम शुरू हुआ था, जिसकी अब जांच शुरू हो रही है।

ऐसे में अगर बीजेपी और शिवपाल की नजदीकियां बढ़ती हैं तो जांच के दायरे से वह बाहर हो सकते हैं। दूसरा कारण ये है कि जब तक सपा अखिलेश यादव के हाथ में है, तब तक शिवपाल के उभरने की संभावनाएं कम हैं। कई जरूरी मौकों पर मुलायम भी उनका साथ छोड़ते नजर आए हैं। वहीं, बीजेपी को 2019 का चुनाव जीतने के लिए पार्टी को मुलायम के गढ़ में एक ऐसा यादव नेता चाहिए, जो पूरी यादव कम्युनिटी को तो नहीं, लेकिन बड़ी संख्या में उनके वोट बटोर सके। जबकि तीसरा कारण ये बताया जा रहा है कि ये सब सिर्फ अखिलेश यादव को नीचा दिखाने के लिए किया जा रहा है।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles