ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• भाजपा के लिए चुनाव प्रचार करेंगे सलमान, इस बड़े नेता के लिए करेंगे रोड शो।
• भगवान राम की मूर्ति को संवैधानिक बताने पर सबित पात्रा ने कहा अब तो बस टोपीलाओ और नमाज़ ……।
• गुजरात में भाजपा का काम बिगाड़ सकती है ये तीन चेहरे, CM योगी भी हो सकते हैं बेअसर।
• 4 सालों से करीना के साथ रिलेशन में है ये मुस्लिम एक्टर, सबूतों के साथ किया दावा।
• रस्सी से बांध बॉडी पर डाला शराब, फिर दारोगा के साथ लड़कियों ने किया ये काम।
• पत्नी की मौत के बाद पति निकला था टहलने, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ ये बड़ा खुलासा।
• टूट सकती है एक्ट्रेस श्वेता तिवारी की दूसरी शादी, ये रही वजह।
• गुरदासपुर उपचुनाव :कांग्रेस उम्मीदवार को जीत की बधाई देने पहुंचे सिद्धू ने दिया ये जबर्दस्त बयान।
• गुजराल सरकार पर प्रणव मुखर्जी ने किया ये हैरान करने वाला खुलासा, जानकर हिल जायेंगे।
• हिमाचल चुनाव को लेकर बीजेपी ने खोले अपने पत्ते, ये दिग्गज नेता होगा सीएम कैंडिडेट।
• चूर-चूर हुआ PM मोदी का सपना, अब इस कारण से भारत में नहीं दौड़ेगी ‘बुलेट ट्रेन’।
• हिमाचल में कांग्रेस को लगा एक और तगड़ा झटका, इस बड़े मंत्री ने थामा भाजपा का दामन।
• एक किन्नर हर साल करता है शादी और अंतिम संस्कार, वजह चौंकाने वाली है।
• कभी था हलवाई फिर बन गया बाबा, होश में आने पर महिला ने बताई करतूत।
• सुहागरात मनाने के बाद सुबह पति को सोता छोड़ गई थी पत्नी, अब सामने आई ये सच्चाई।

राहुल गांधी से मिलने नहीं आये सिद्धू…. कयास लगाते रहे कांग्रेस नेता।

भारतीय जनता पार्टी से पूर्व सांसद और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को बड़ा झटका दे दिया हैं। जानें कैसे?

नई दिल्ली, 11 जनवरी :पांच राज्यो में चुनावों की तारीखों के ऐलान के बाद सभी राजनीतिक दल अपने-अपने राजनीतिक गणित के हिसाब से जोड़ने और घटाने में लगे हुए हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी मंगलवार को लंदन से छुट्टियां मनाकर दिल्ली वापस आ चुके हैं। मंगलवार को ही राहुल गांधी ने सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से उनके घर जाकर मुलाकात की। बीजेपी से पूर्व सांसद नवजोत सिंह सिद्धू मंगलवार को ही कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने वाले थे। लेकिन, ऐसा नहीं हुआ।

Advertisement

हालांकि, कांग्रेस पार्टी में जो सिद्धू के करीबी हैं उनका मानना है कि अब वे 13 जनवरी को पार्टी ज्वाइन कर सकते हैं क्योंकि उस दिन लोहड़ी का त्योहार है। साथ ही कांग्रेस के कुछ नेता को इस बात का शक भी है कि सिद्धू ने अपना मन ना बदल लिया हो। पंजाबियों के इस बड़े त्योहार के मौके पर सिद्धू कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। हालांकि, पार्टी का एक धड़ा सिर्फ इस बात को लेकर नाराज हैं कि वे मंगलवार को राहुल गांधी से मिलने क्यों नहीं आये। बहरहाल कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने से पहले किसी भी तरह का माहौल ख़राब न जाये इसलिए अभी तक शांत बैठे हुए हैं।

दरअसल, कांग्रेस नेता इस बात को लेकर और भी ज्यादा चिढ़े हुए हैं कि उन्होंने मंगलवार को ही इस बात की खबर फैला दी थी कि पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी ज्वाइन करेंगे और वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस का गठबंधन समाजवादी पार्टी या अखिलेश यादव के खेमे के साथ होगा। लेकिन, कांग्रेस सूत्रों से मिली दोनों ही खबर अपने मुकाम तक नहीं पहुंच पाई। ऐसे में अब कांग्रेस के तमाम नेताओं को डर सता रहा हैं कि ये लोग कांग्रेस में शामिल का अपना मन न बदल लिया हो। क्योंकि, अगर ऐसा हुआ तो सबसे ज्यादा नुकसान कांग्रेस पार्टी का ही होगा। आपको बता दें, सियासी गठबंधन में हर दल और व्यक्ति अपना नफा और नुकसान देखकर ही कोई कदम उठाता हैं।

आज की तारीख में सिद्धू को जितनी कांग्रेस पार्टी की जरुरत हैं उतनी ही कांग्रेस को सिद्धू की भी जरुरत हैं। सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर 28 नवंबर को ही कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर चुकी हैं। वो एलान कर चुकी हैं कि सिद्धू पंजाब विधानसभा का चुनाव कांग्रेस के टिकट पर अमृतसर ईस्ट से लड़ेंगे। वहीं, कुछ लोगों का मानना हैं कि उनका मसला डिप्टी सीएम को लेकर फंसा हुआ हैं। जिसे लेकर दोनों के बीच बातचीत जारी हैं।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles