ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• योगी की राह पर दिल्ली की केजरीवाल सरकार, कर दिया ये बड़ा ऐलान।
• एक पौराणिक कथा के अनुसार… तो इसलिए होता है महिलाओं को मासिक धर्म।
• नेताओं ने ढूंढा लाल बत्ती का विकल्प, अब इस तरह मिलेगा रास्ता साफ, जानकर होश उड़ जाएंगे।
• ‘AAP’ की हार पर कुमार विश्वास ने उठाए केजरीवाल पर सवाल, कह दी ये बड़ी बात।
• 10 और 5 रूपये के सिक्कों को लेकर RBI ने जारी की ये घोषणा, जानें क्या है !
• सुकमा शहीदों के लिए गौतम गंभीर ने उठाया ये बड़ा कदम, जानकर आप भी करेंगे सैल्यूट।
• MCD चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद बरसीं शीला, राहुल गांधी को दे डाली ये सलाह।
• UP: एक्शन में आई योगी सरकार की ये दबंग मंत्री, कर दिया बड़ा ऐलान।
• भाजपा ऐसे करे कश्मीर समस्या का समाधान तो जल्द दिखेंगे असर, नहीं तो परिस्थतियाँ और बिगड़ सकती है।
• BJP के जीत के पीछे मोदी फैक्टर तो है ही, लेकिन फाइनल रिजल्ट तो अमित शाह के इस “प्रतिशत के खेल” से आता है।
• छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला नोटबंदी की विफलता का सूचक है।
• UP: केशव प्रसाद मौर्य ने प्रदेशाध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, अब ये लेंगे उनकी जगह।
• BJP के इस बड़े नेता ने CM नीतीश पर सुकमा के शहीदों को अपमान करने का लगाया आरोप, जानें क्या है पूरा मामला।
• रिलायंस Jio के यूजर्स के लिए बड़ी खुशखबरी, अब साल-डेढ़ साल तक सबकुछ मिलेगा फ्री।
• MCD चुनाव में हार के बाद Congress के इस बड़े नेता ने दिया इस्तीफा, सोनिया-राहुल हुए सन्न।

राहुल गांधी से मिलने नहीं आये सिद्धू…. कयास लगाते रहे कांग्रेस नेता।

भारतीय जनता पार्टी से पूर्व सांसद और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को बड़ा झटका दे दिया हैं। जानें कैसे?

नई दिल्ली, 11 जनवरी :पांच राज्यो में चुनावों की तारीखों के ऐलान के बाद सभी राजनीतिक दल अपने-अपने राजनीतिक गणित के हिसाब से जोड़ने और घटाने में लगे हुए हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी मंगलवार को लंदन से छुट्टियां मनाकर दिल्ली वापस आ चुके हैं। मंगलवार को ही राहुल गांधी ने सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से उनके घर जाकर मुलाकात की। बीजेपी से पूर्व सांसद नवजोत सिंह सिद्धू मंगलवार को ही कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने वाले थे। लेकिन, ऐसा नहीं हुआ।

Advertisement

हालांकि, कांग्रेस पार्टी में जो सिद्धू के करीबी हैं उनका मानना है कि अब वे 13 जनवरी को पार्टी ज्वाइन कर सकते हैं क्योंकि उस दिन लोहड़ी का त्योहार है। साथ ही कांग्रेस के कुछ नेता को इस बात का शक भी है कि सिद्धू ने अपना मन ना बदल लिया हो। पंजाबियों के इस बड़े त्योहार के मौके पर सिद्धू कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। हालांकि, पार्टी का एक धड़ा सिर्फ इस बात को लेकर नाराज हैं कि वे मंगलवार को राहुल गांधी से मिलने क्यों नहीं आये। बहरहाल कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने से पहले किसी भी तरह का माहौल ख़राब न जाये इसलिए अभी तक शांत बैठे हुए हैं।

दरअसल, कांग्रेस नेता इस बात को लेकर और भी ज्यादा चिढ़े हुए हैं कि उन्होंने मंगलवार को ही इस बात की खबर फैला दी थी कि पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी ज्वाइन करेंगे और वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस का गठबंधन समाजवादी पार्टी या अखिलेश यादव के खेमे के साथ होगा। लेकिन, कांग्रेस सूत्रों से मिली दोनों ही खबर अपने मुकाम तक नहीं पहुंच पाई। ऐसे में अब कांग्रेस के तमाम नेताओं को डर सता रहा हैं कि ये लोग कांग्रेस में शामिल का अपना मन न बदल लिया हो। क्योंकि, अगर ऐसा हुआ तो सबसे ज्यादा नुकसान कांग्रेस पार्टी का ही होगा। आपको बता दें, सियासी गठबंधन में हर दल और व्यक्ति अपना नफा और नुकसान देखकर ही कोई कदम उठाता हैं।

आज की तारीख में सिद्धू को जितनी कांग्रेस पार्टी की जरुरत हैं उतनी ही कांग्रेस को सिद्धू की भी जरुरत हैं। सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर 28 नवंबर को ही कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर चुकी हैं। वो एलान कर चुकी हैं कि सिद्धू पंजाब विधानसभा का चुनाव कांग्रेस के टिकट पर अमृतसर ईस्ट से लड़ेंगे। वहीं, कुछ लोगों का मानना हैं कि उनका मसला डिप्टी सीएम को लेकर फंसा हुआ हैं। जिसे लेकर दोनों के बीच बातचीत जारी हैं।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles