ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

नीतीश ने PM मोदी पर बोला हमला, कहा -2019 में BJP को रोकने के लिए ये काम करना होगा जरुरी।

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला है, उन्होंने 2019 में बीजेपी को रोकने सभी विपक्षी दलों से ये मांग कर डाली है। 

नई दिल्ली, 3 अप्रैल : पिछले कुछ दिनों से सियासी गलियारों में ये कयास लगाया जा रहा था कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार एक बार फिर से एनडीए में शामिल हो सकते हैं। बिहार में लालू यादव के साथ उनके तनावपूर्ण रिश्तों की खबरें आती रहती है। जदयू नेता और राजद समेत यूपीए के घटक दलों से नीतीश कुमार को 2019 में पीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग कर रहे हैं, नहीं तो जेडीयू के नेता दूसरा रास्ता देखने की बात भी कह रहे हैं। हाल में बिहार दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में राजद नेता और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को निमंत्रण नहीं मिला था इस पर पार्टी के नेताओं ने नाराजगी जताई थी।

Advertisement

लेकिन सोमवार को नीतीश कुमार ने महागठबंधन की पैरवी कर इन सारे कयासों पर फिलहाल ब्रेक लगा दिया है। नीतीश कुमार ने ईवीएम मुद्दे पर कहा कि चुनाव आयोग को इस समस्या का पुख्ता समाधान करना चाहिए। नीतीश कुमार ने पटना में सोमवार को लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद पत्रकारों के दौरान एक बार फिर देश में महागठबंधन बनाने की बात दोहराई है। उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को रोकने के लिए सभी विपक्षी पार्टियों को एकजुट होना पड़ेगा। इसके लिए कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों को पहल करनी चाहिए। आपको बता दें हाल में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में से बीजेपी ने चार राज्यों में सरकार बनाई। वहीं, यूपी में 325 सीटें जीतीं।

नीतीश ने कहा कि बिहार जैसे महागठबंधन की कमी की वजह से बीजेपी की यूपी में जीत हुई। यदि सपा, कांग्रेस और बसपा के वोट को मिला दें तो ये बीजेपी को मिले कुल वोटों से 10 फीसदी ज्यादा हो जाएगा। नीतीश कुमार ने कहा, 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को बढ़त बनाने से रोकने के लिए बिहार जैसा महागठबंधन जरूरी है। देश में नेता की कमी नहीं है, लेकिन लोगों को एकजुट होना पड़ेगा। नीतीश ने कहा कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते कांग्रेस को सभी बड़े विपक्षी पार्टियों को एक करना चाहिए। उन्होंने कहा, मैंने इस मामले में कुछ वामपंथी दलों से बात की है। साथ ही नीतीश कुमार ने शराबबंदी को लेकर केंद्र सरकार को एक चुनौती दी है।

पीएम मोदी से कहा है कि अगर वो महात्मा गांधी का सम्मान करते हैं औऱ निष्ठा रखते हैं तो पूरे देश में शराबबंदी लागू करें। अगर पूरे देश में नहीं कर सकते हैं तो कम से कम बीजेपी शासित राज्यों में तो शराबबंदी को लागू करें। हालांकि कार्यक्रम में नीतीश योगी सरकार के बूचड़खानों के खिलाफ लिए गए फैसले पर बोलने से बचते दिखाई दिए। बता दें कि यूपी में योगी सरकार ने अवैध बूचड़खानों पर बैन लगा दिया है। इस फैसले के बाद यूपी में हंगामा मचा हुआ है। वहीं बीजेपी के नेताओं ने बिहार में भी अवैध बूचड़खानों के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की है। इस से नीतीश सरकार पर दबाव बढ़ रहा है।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles