ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।
• इस महिला IAS ने छीन ली मंत्री की कुर्सी, किया ऐसा खुलासा कि हिल गई पूरी सरकार।
• जवानी में सफेद हो रहे हैं बाल तो आजमाइए सिर्फ 1 नुस्खा, तेजी से होंगे काले।
• ये हैं रानी पद्मावती के असली वंशज, जीते हैं महाराजा जैसी लाइफ।
• 6 साल की हुई देश की पहली बेबी सेलिब्रिटी, अमिताभ ने ऐसे किया पोती को बर्थ डे विश।
• भगवा गमछे में CM योगी से मिलने पहुंचा बसपा का ये बाहुबली, मची खलबली।

PM मोदी नहीं बल्कि इस बड़े नेता की वजह से गुरमीत राम रहीम गए जेल, CBI ने बताई सच्चाई।

गुरमीत

सीबीआई के रिटायर्ड अफसर एम नारायणन ने गुरमीत राम रहीम के गिरफ्तारी को लेकर एक खुलासा किया है जिससे चरों और हंगामा मचा है। 

नई दिल्ली, 31 अगस्त : डेरा सच्चा सौदा चीफ गुरमीत राम रहीम को रेप के दो मामले में राम रहीम को 20 साल की सजा मिली है। साथ ही 30 लाख का जुर्माना भी लगाया गया है। राम रहीम के खिलाफ ये मामला काफी पुराना है। अब इस मामले की परतें खुल कर सामने आ रही हैं। सोशल मिडिया से लेकर आम लोगों में भी ये अफवाह है की गुरमीत राम रहीम को अंदर कराने में प्रधानमंत्री मोदी का हाथ है लेकिन सच्चाई इससे दीगर है जिसे सीबीआई के रिटायर डीआईजी एम. नारायणन ने सबके सामने ला दिया और इस मामले में नया खुलासा किया है।

Advertisement

उन्होंने बताया कि हरियाणा और पंजाब के कुछ सांसदों ने मामले को रफा दफा करने के लिए मनमोहन सिंह पर दबाब बनाया था। नारायणन ने मिडिया से खुलकर बात करते हुए कहा की गुरमीत राम रहीम के खिलाफ जांच नहीं करने के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर दबाब बनाया गया था लेकिन इन सब बातों को दरकिनार करते हुए मनमोहन सिंह ने सीबीआई को जाँच आगे बढ़ने को कहा और साथ ही मनमोहन सिंह भी सीबीआई के साथ खड़े रहे। इसी का नतीजा है कि सीबीआई ने राम रहीम के खिलाफ पुख्ता सबूत जमा किये और उन्हें उनके अंजाम तक पहुँचाया।

इस खुलासे के बाद ये साफ हो रहा है कि राम रहीम का प्रभाव कितना था। ‘न्यूज 18’ को दिए इंटरव्यू में नारायणन ने खुलासा करते हुए कहा कि राजनीतिक दबाव बढ़ने के बाद मनमोहन सिंह ने सीबीआई के तत्कालीन चीफ विजय शंकर को तलब किया था। उनके साथ गुरमीत राम रहीम के मुद्दे पर चर्चा की। तमाम बातों और पीड़ितों के बयानों के बारे में जानने के बाद पूर्व पीएम ने सीबीआई प्रमुख से अपनी जांच आगे बढ़ाने के लिए कहा था।

राम रहीम को सजा के एलान के बाद नारायण ने कहा कि 2002 के बाद से ही सीबीआई के बड़े अधिकारियों के साथ-साथ तमाम बड़े लोगों की तरफ से दबाव पड़ने लगा था। उन्होंने बताया कि राम रहीम के 15 साल पुराने केस में कई बार हार और जीत का सामना करना पड़ा था। सीबीआई के पूर्व अधिकारी के इस खुलासे के बाद ये साफ़ हो रहा है कि राम रहीम की पहुँच सियासत में कितनी गहरी थी।

राम रहीम को बचाने के लिए हरियाणा और पंजाब के कुछ सांसदों ने सीधे पीएम पर दबाव बनाने की कोशिश की थी। साथ ही सीबीआई के बड़े अधिकारी भी उसे बचाने के लिए दबाव बना रहे थे। लेकिन, इसके बावजूद पूर्व पीएम मनमोहन सिंह इस दबाव के आगे नहीं झुके।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles