ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

कैप्टन अमरिंदर ने Congress को दिया जबर्दस्त झटका, PM मोदी के साथ आये, सोनिया के उड़े रंग।

कांग्रेस अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर आरोप लगा रही है कि EVM से छेड़छाड़ हुई जिससे यूपी और उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में बीजेपी को जीतने में सहयोग मिला। 

नई दिल्ली, 13 अप्रैल: पंजाब विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि आम आदमी पार्टी के खराब प्रदर्शन के पीछे की वजह EVM में गड़बड़ी हो सकती है। केजरीवाल ने दावा किया था कि ‘आप’ के खाते में आने वाले लगभग 20 से 25 फीसदी वोट शायद शिअद-भाजपा गठबंधन को चले गए। केजरीवाल ने कहा था कि तमाम सर्वे और राजनीतिक पंडितों ने पार्टी के लिए भारी जीत की भविष्यवाणी की थी लेकिन, इसके बावजूद पार्टी को सिर्फ 20 सीटें मिलना समझ से परे है और यह EVM की विश्वसनीयता पर एक बड़ा सवाल खड़ा करता है।

Advertisement

इससे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी EVM के साथ छेड़छाड़ की बात कही थी। इस मुद्दे को लेकर मायावती कोर्ट भी गई हैं। बसपा के अलावा सपा, कांग्रेस भी EVM में छेड़छाड़ के मुद्दे को जोर-शोर से उठाती रही है। कांग्रेस पार्टी का आरोप है कि मशीन से छेड़छाड़ हुई है। पार्टी ने मांग की है कि EVM की जगह पुराने मतपत्रों का इस्तेमाल किया जाए। कांग्रेस ने एक ओर जहां ईवीएम में छेड़छाड़ की आशंका को लेकर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की, वहीं उसके ही कुछ दूसरे वरिष्ठ नेता इस मुद्दे पर पार्टी से एकमत नहीं दिख रहे हैं। पंजाब में हुए हालिया विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस ने 117 में से 77 पर जीत दर्ज कर कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में सरकार बनाई।

कैप्टन ने ईवीएम से छेड़छाड़ की आशंकाओं को खारिज करते हुए कहा कि अगर ईवीएम से छेड़छाड़ हुई होती, तो मैं मुख्यमंत्री नहीं होता, यहां अकालियों की सरकार होती। पूर्व कानून मंत्री वीरप्पपा मोईली के बाद अमरिंदर सिंह कांग्रेस के दूसरे वरिष्ठ नेता हैं जो ईवीएम के बचाव में उतरे हैं। इससे पहले वीरप्पा मोइली ने ईवीएम में छेड़छाड़ की आशंका को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत करने को पराजित मानसिकता करार दिया था। मोइली ने कहा कि यह सभी सिर्फ क्षेत्रीय दलों की लोकलुभावन कोशिश है, हमारी पार्टी भी इसमें साथ जुड़कर हार के बहाने तलाश रही है।

उन्होंने कहा कि जब मैं कानून मंत्री था, उस समय ईवीएम चलन में आए थे। उस समय भी इसको लेकर शिकायत आई थी, हमनें तब उसे सुलझा लिया था। उधर, ईवीएम के साथ छेड़छाड़ के आरोप लगाने वालों को अब चुनाव आयोग ने खुला चैलेंज दिया है। आयोग ने ईवीएम की पुख्ता सुरक्षा का दावा करते हुए कहा कि मई के पहले हफ्ते से लेकर 10 मई के बीच कोई भी उनकी इन मशीनों को हैक करके दिखाए। आयोग ने 2009 में भी ऐसी ही चुनौती पेश की थी और दावा किया था कि कोई भी ईवीएम को हैक नहीं कर सका था।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles