ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• पति नहीं बल्कि जीजा के प्यार में दीवानी थी पत्नी, फिर एक दिन अचानक हुआ ये…
• नवरात्र में पहने इन 9 रंगों के कपड़े, मनोकामना होगी पूर्ण, घर में आएगी सुख-संपति।
• 3 महीने की प्रेग्नेंट निकली 8वीं की छात्रा, भाजपा के इस नेता पर लगाया रेप का आरोप।
• पत्नी को दोस्तों संग सोने को कहता था ये शख्स, यूपी के इस मंत्री का भी आया नाम।
• इन 6 बैंकों में है आपका खाता तो 30 सितंबर से पहले कर लें ये काम, वर्ना हो जाएगा नुकसान।
• हामिद अंसारी की पत्नी सलमा ने दिया ये चौंकाने वाला बयान, लोगों ने लगा दी क्लास।
• जब पहले वनडे के बाद पूरी टीम कुछ ऐसे कर रही थी एयरपोर्ट पर आराम, धोनी कर बैठे ऐसी हरकत।
• राम रहीम के साथ एक बेड पर सोती थी हनीप्रीत, सहेली ने किये और भी कई खुलासे।
• 70 सालों से बंद था इस घर का दरवाजा, खुलते ही खुली परिवार की किस्मत।
• मां ने बेटे से कहा -तुम बड़े हो गए हो मेरे पति की कमी पूरी करो और फिर हुआ ये।
• पिता के इलाज के लिए बच्ची ने PM मोदी को लिखा लेटर, तो CM योगी ने दिया ये जवाब।
• JDU राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाये गये नीतीश कुमार, लालू के साथ फिर होगा JDU का महागठबंधन।
• शाहरुख़ या सलमान नहीं बल्कि इस बॉलीवुड एक्टर को डेट करना चाहती है ये दिग्गज खिलाड़ी।
• 16 साल के लड़के पर आया मैडम का दिल, राज खुला तो उठाया ये बड़ा कदम।
• पाकिस्तानी पुलिसवाले ने कोहली को किया शादी के लिए प्रपोज, लोगों ने लगा दी क्लास।

बाबा रामदेव को लगा तगड़ा झटका, पतंजलि के इस विज्ञापन पर हाई कोर्ट ने लगाई रोक।

योगगुरु बाबा रामदेव को बॉम्बे हाई कोर्ट ने तगड़ा झटका दिया है, पतंजलि के इस विज्ञापन पर कोर्ट ने अंतरिम रोक लगा दी है। 

नई दिल्ली, 7 सितंबर :आजकल टीवी पर योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि के उत्पाद छाये हुए हैं। कहीं पर शहद का विज्ञापन, तो कहीं पर शैंपू, साबुन और क्रीम का। हर जगह बाबा रामदेव लोगों से विदेशी कंपनियों का उत्पाद छोड़ स्वदेशी अपनाने की अपील लोगों से कर रहे हैं। लेकिन, इस दौरान वे अन्य कंपनियों को नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं।

Advertisement

साबुन के एक ऐसे ही विज्ञापन में बाबा रामदेव हिंदुस्तान यूनिलीवर के साबुन का उपहास उड़ाते नजर आ रहे हैं। हिंदुस्तान यूनिलीवर ने इस विज्ञापन पर रोक लगाने की मांग करते बॉम्बे हाई कोर्ट में अपील की है। स पर हाईकोर्ट ने पतंजलि आयुर्वेद को निर्देश दिया है कि अगली सुनवाई तक विज्ञापन पर रोक लगाई जाए। अब इस मामले में अगली सुनवाई 18 सितंबर को होगी।

फिलहाल, कोर्ट के आदेश पर अभी तक पतंजलि आयुर्वेद की ओर से कोई भी बयान जारी नहीं हुआ है। हालांकि, हिंदुस्तान यूनिलीवर के प्रवक्ता ने हाई कोर्ट के आदेश की पुष्टि करते हुए कहा कि कोर्ट ने पतंजलि के विज्ञापन पर रोक लगा दी है। दरअसल, हाल ही में टीवी पर पतंजलि के साबुन का विज्ञापन का आना शुरू हुआ है।

इस विज्ञापन में हिंदुस्तान यूनिलीवर कंपनी की साबुन लक्स, पियर्स और लाइफबॉय का नाम लेकर अप्रत्यक्ष तरीके से उपभोक्ताओं को कहा है कि केमिकल बेस्ड साबुनों का प्रयोग न करें और प्राकृतिक अपनाएं। विज्ञापन में पियर्स के लिए टियर्स बढाए फियर्स और लाइफबॉय के लिए लाइफ जॉय न लाओ नियर जैसी पंक्तियों का इस्तेमाल किया गया है।

पतंजलि का यह विज्ञापन 2 सितंबर से प्रसारित किया जा रहा है। आपको बता दें, देश में साबुन का कारोबार 15 हजार करोड़ रूपये का है। जिसमे 50 फीसदी पर हिंदुस्तान यूनिलीवर का कब्ज़ा है। लक्स, पियर्स, डव और लाइफबॉय जैसे साबुन देशभर में छाये हुए हैं।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles