ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

बाबा रामदेव को लगा तगड़ा झटका, पतंजलि के इस विज्ञापन पर हाई कोर्ट ने लगाई रोक।

योगगुरु बाबा रामदेव को बॉम्बे हाई कोर्ट ने तगड़ा झटका दिया है, पतंजलि के इस विज्ञापन पर कोर्ट ने अंतरिम रोक लगा दी है। 

नई दिल्ली, 7 सितंबर :आजकल टीवी पर योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि के उत्पाद छाये हुए हैं। कहीं पर शहद का विज्ञापन, तो कहीं पर शैंपू, साबुन और क्रीम का। हर जगह बाबा रामदेव लोगों से विदेशी कंपनियों का उत्पाद छोड़ स्वदेशी अपनाने की अपील लोगों से कर रहे हैं। लेकिन, इस दौरान वे अन्य कंपनियों को नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं।

Advertisement

साबुन के एक ऐसे ही विज्ञापन में बाबा रामदेव हिंदुस्तान यूनिलीवर के साबुन का उपहास उड़ाते नजर आ रहे हैं। हिंदुस्तान यूनिलीवर ने इस विज्ञापन पर रोक लगाने की मांग करते बॉम्बे हाई कोर्ट में अपील की है। स पर हाईकोर्ट ने पतंजलि आयुर्वेद को निर्देश दिया है कि अगली सुनवाई तक विज्ञापन पर रोक लगाई जाए। अब इस मामले में अगली सुनवाई 18 सितंबर को होगी।

फिलहाल, कोर्ट के आदेश पर अभी तक पतंजलि आयुर्वेद की ओर से कोई भी बयान जारी नहीं हुआ है। हालांकि, हिंदुस्तान यूनिलीवर के प्रवक्ता ने हाई कोर्ट के आदेश की पुष्टि करते हुए कहा कि कोर्ट ने पतंजलि के विज्ञापन पर रोक लगा दी है। दरअसल, हाल ही में टीवी पर पतंजलि के साबुन का विज्ञापन का आना शुरू हुआ है।

इस विज्ञापन में हिंदुस्तान यूनिलीवर कंपनी की साबुन लक्स, पियर्स और लाइफबॉय का नाम लेकर अप्रत्यक्ष तरीके से उपभोक्ताओं को कहा है कि केमिकल बेस्ड साबुनों का प्रयोग न करें और प्राकृतिक अपनाएं। विज्ञापन में पियर्स के लिए टियर्स बढाए फियर्स और लाइफबॉय के लिए लाइफ जॉय न लाओ नियर जैसी पंक्तियों का इस्तेमाल किया गया है।

पतंजलि का यह विज्ञापन 2 सितंबर से प्रसारित किया जा रहा है। आपको बता दें, देश में साबुन का कारोबार 15 हजार करोड़ रूपये का है। जिसमे 50 फीसदी पर हिंदुस्तान यूनिलीवर का कब्ज़ा है। लक्स, पियर्स, डव और लाइफबॉय जैसे साबुन देशभर में छाये हुए हैं।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles