ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

अपनी पसंद का राष्ट्रपति बनवाने के लिए PM मोदी का ये रहा ‘प्रेसिडेंट प्लान’।

राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने में अभी दो महीने का वक्त बाकि है लेकिन, चुनाव से पहले बीजेपी वोट की जुगाड़ में पूरा जोर लगा दिया है। जानिये क्या है रणनीति…

नई दिल्ली, 12 अप्रैल: पिछले महीने हुए पांच राज्यों में से चार राज्यों में जीत का परचम लहराने के बाद अब बीजेपी के सामने अगली चुनौती अपनी पसंद का राष्ट्रपति बनवाने की है। लेकिन, लोकसभा और कई विधानसभाओं में प्रचंड बहुमत के बावजूद पार्टी के लिए राष्ट्रपति भवन में अपनी पसंद के उम्मीदवार को पहुंचाना आसान नहीं है। यही वजह है कि पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियों में जुट गए है। इस चुनाव में अपनी पसंद के उम्मीदवार को राष्ट्रपति बनाने के लिए बीजेपी एक-एक वोट के जुगाड़ में लगी है। आपको बता दें, राष्ट्रपति पद के लिए वोटिंग इसी साल जुलाई में होने है।

Advertisement

 

राष्ट्रपति चुनाव से पहले बीजेपी ने वोट की जुगाड़ में एड़ी चोटी का जोड़ लगा दिया है। बीते दिनों हुए विधानसभा और लोकसभा की 15 सीटों पर हुए उपचुनाव में भी बीजेपी ने पूरा जोर लगाया और आज बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एनडीए के नेताओं की बैठक बुलाई। इस बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे समेत एनडीए के कुल 32 सहयोगी शामिल हुए।आपको बता दें, बीजेपी को अपनी पसंद का राष्ट्रपति चुनने के लिए अब भी करीब 16 हजार वोट चाहिए। ऐसे में एक एक विधायक और सांसद का वोट महत्वपूर्ण हो गया है।

राष्ट्रपति चुनाव में लोकसभा और राज्यसभा के चुने हुए सांसद और देश भर की विधानसभाओं के विधायक वोट करते हैं। 776 सांसद और 4120 विधायक मिलाकर कुल 4896 लोग नया राष्ट्रपति चुनेंगे। इनके वोटों की कुल कीमत 10 लाख 98 हजार बैठती है यानी जीत के लिए 5 लाख 49 हजार वोट चाहिए। पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से पहले बीजेपी और उसकी सहायक पार्टियों के पास कुल 4 लाख 57 हजार वोट थे यानी उसे अपनी पसंद का राष्ट्रपति चुनने के लिए 92 हजार वोटों की जरूरत थी। इन राज्यों से बीजेपी के जितने विधायक चुन कर आए उनकी कुल कीमत 96 हजार बैठती है। इस प्रकार बीजेपी के पास 5 लाख 53 हजार वोट हो गये जो आसानी से उसे अपना राष्ट्रपति दे सकते हैं।

पार्टी के रणनीतिकारों को इस बात का अंदाजा है कि राष्ट्रपति चुनाव में एक-एक वोट कीमती होने जा रहा है। लिहाजा दो महीने बाद होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए बीजेपी ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर का संसद से इस्तीफा देने से रोक रखा है। आपको बता दें, राष्ट्रपति चुनाव में एक सांसद के वोट की कीमत 708 है। तीन इस्तीफे नहीं करवा के बीजेपी ने करीब 2100 वोटों की व्यवस्था कर ली है। 9 अप्रेल को जिन 12 विधानसभा और 3 लोकसभा सीटों के लिए उपचुनाव हुए उनके वोटों की कुल कीमत करीब 4000 बैठती है। बीजेपी की कोशिश ज्यादा से ज्यादा सीटे जीतने की है ताकि वो 16000 के अंतर को कम कर सके।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles