ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

‘मिशन 2019’ के लिए अमित शाह ने शुरू की तैयारी, अब ऐसे देंगे विरोधियों को पटखनी।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अभी से ही 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है, जानिये इसके लिए उन्होंने क्या प्लानिंग की है… 

नई दिल्ली, 5 अप्रैल: एक कहावत है कि अच्छा राजनेता वही होता है जो वक्त रहते भविष्य की प्लानिंग कर ले और अपनी पिछली गलतियों को सुधार ले। यूपी में भी बड़ी जीत दर्ज करने के बाद बीजेपी ने अभी से ही 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बाकायदा इसके लिए मिशन 2019 तैयार भी कर दिया है। अमित शाह का इस वक्त उन सीटों पर ही जिसमे पार्टी को 2014 लोकसभा चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा था। अमित शाह का मानना है कि ऐसे सीटों पर मेहनत करके इन्हें जीता जा सकता है।

Advertisement

दरअसल, अंबेडकर जयंती के मौके पर बीजेपी अपने सभी बड़े मंत्रियों और पदाधिकारियों को 6 अप्रैल से लेकर 14 अप्रैल तक उन सीटों पर प्रवास के लिए भेज रही है जहां 2014 में बीजेपी लोकसभा चुनाव हारी थी, ऐसा करके बीजेपी एक बड़ा संदेश देने की कोशिश में है। बीजेपी नेताओं द्वारा बताया जा रहा है कि 8 दिन चलने वाले कैम्पेन में पार्टी के सीनियर नेता और मंत्री हिस्सा लेंगे। अमित शाह खुद हैदराबाद जा रहे हैं। हैदराबाद को AIMIM चीफ असद्दुदीन ओवैसी का गढ़ माना जाता है। लेकिन, पार्टी को पूरी उम्‍मीद है कि वो यहां पर भी अपना परचम लहरा सकती है। राजनाथ सिंह के जिम्मे दक्षिण कोलकाता जाएंगे।

पिछले कई सालों से पश्चिम बंगाल में लेफ्ट पार्टियों और ममता बनर्जी का कब्‍जा रहा है। लेकिन, पिछले कुछ चुनावों में यहां की तस्‍वीर बदलती नजर आ रही है। पश्चिम बंगाल में भी हवा बीजेपी की चल पड़ी है। केंद्रीय वित्‍त मंत्री अरुण जेटली बेंगलुरु में मोर्चा संभालेंगे। जबकि नितिन गड़करी की ड्यूटी अमित शाह ने निजामाबाद में लगाई है। इस दौरान बीजेपी की ओर से यहां पर कई कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर बीजेपी केंद्र में अपनी उपलब्धियों को जन जन तक पहुंचाने का प्रयास करेगी। साथ ही, विपक्ष के झूठे प्रचारों का भी पर्दाफाश किया जाएगा।

ज्यादातर केंद्रीय मंत्री उन लोकसभा क्षेत्रों में जाएंगे जिन्हें पार्टी हाईकमान ने चुना है। इसके अलावा बीजेपी सांसदों को भी एक-एक सीट का दौरा करने को कहा गया है। अमित शाह का मकसद ये है कि पार्टी 2019 में 2014 के मुकाबले और भी ज्‍यादा बेहतर तरीके से परफॉर्म कर सके। पार्टी ऐसी सीटों पर ज्‍यादा से ज्‍यादा फोकस कर रही है जहां पर जीतने की उम्‍मीद उसे ज्‍यादा नजर आ रही है। उधर, बीजेपी का फोकस ओडिशा पर भी बढ़ गया है।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles