ताज़ा खबर

ताज़ा खबर
• बॉलीवुड के इस सिंगर ने एक बच्ची की मां से रचाई थी शादी, विवादों से रहा हैं नाता।
• वनडे टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने विराट कोहली को लेकर दिया बयान, मचा हंगामा।
• नाक के आकार से जानिये इंसान का स्वभाव, जानें क्या कहती हैं आपकी नाक आपके बारे में।
• मोदी सरकार के इस नए स्कीम से कमायें 80 हजार प्रति महीने, ऐसे उठाये फायदा.
• JIO के बाद मुकेश अम्बानी का एक और जबर्दस्त धमाका, मात्र इतने रुपये प्रति लीटर मिलेगा पेट्रोल.
• अमिताभ बच्चन की बेटी के बारे में सामने आई ऐसी सच्चाई, सुनकर होश उड़ जायेंगे आपके।
• दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, 55 साल के इस शख्स के साथ करना चाहती है शादी।
• CM योगी ने 10 साल पहले इस लड़की के सिर पर रखा था हाथ, आज तक निभा रहे हैं साथ।
• गुपचुप तरीके ने जहीर खान ने इस बॉलीवुड एक्ट्रेस से रचाई शादी, तो रोहित शर्मा ने कही ये बात।
• USA में जॉब छोड़ गाँव में बकरियां पाल रहा है ये साइंटिस्ट, कमा रहा है लाखों।
• गुजरात चुनाव में PM मोदी ने चल दिया सबसे बड़ा दांव, दंग रह गई कांग्रेस पार्टी।
• गुप्त सुरंग से इस मंदिर में आती थी रानी पद्मावती, दिखती थी कुछ ऐसी।
• धोनी ने किया खुलासा, 2007 में इसलिए बनाया गया था टीम इंडिया का कप्तान।
• शादी की पहली रात दूल्हे ने होटल में पत्नी के साथ किया ऐसा काम, वह हो गई बेहोश।
• 6 साल के लव अफेयर का ऐसे हुआ अंत, BF ने लड़की से रखी थी ऐसी डिमांड।

AAP में विवाद नहीं, एक ड्रामा ख़त्म हुआ, केजरीवाल और विश्वास ने लिखी थी स्क्रिप्ट !

आप

अचानक ही कुमार विश्वास मीडिया में आप के खिलाफ बोलते नजर आने लगे। उनकी नाराजगी को शुरुआती दौर में शांत नहीं कराया गया।

नई दिल्ली(ब्यूरो), 5 मई : 5 साल पूर्व भारतीय राजनीति में आम आदमी पार्टी के उदय को राजनीतिक बदलाव के रूप में देख गया। जब आप पार्टी आकर ले रही थी, तब इसे विकल्प की राजनीति की नई शुरुआत माना गया। भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष के ताप में निखरी नई तरह की राजनीति। जिस बदलाव का भारत और भारतीय को इंतजार था। जनमानस में एक जोश पैदा हुआ, उम्मीद पनपी, पर जैसे जैसे सरकार की उम्र बढ़ी वैसे वैसे दिल्ली सरकार, उसके मंत्री और विधायक एक एक कर लोगों की उम्मीद और विश्वास तोड़ते हुए मीडिया में दिखने लगे।

Advertisement

हर वो बात जो पार्टी को लोगों के बीच ले गई पार्टी धीरे-धीरे अपने नए तर्कों के साथ उसे खुद ही नकारती नजर आई। चाहे वह गाड़ी बंगला की बात हो, विधायकों के लाखों वेतन की बात हो, महिला सुरक्षा की बात हो। पार्टी अपने बनाये उद्देश्यों से खुद ही भटकती नजर आई। आप की तब भी चर्चा हुई जब इसका उदय हुआ था। आप की आज भी चर्चा हो रही। लेकिन दोनों चर्चाओं में जमीन आसमान का अंतर है। अभी आप के सामने दो तरह के संकट नजर आ रहे। एक लगातार चुनावी हार से उपजा है, तो दूसरा जहां उसके अपने ही उस पर हावी हो रहे।

अपेक्षाएं ज्यादा हो तो निराशाएं भी ज्यादा उपजती है। आप के अंदरुनी मतभेद इसी निराशा की उपज है। लगातार हार ने पार्टी के कार्यकर्ताओं का मनोबल अर्श से फर्श पर लाकर रख दिया। जो कार्यकर्ता खुद को बदलाव का सिपाही समझ रहे थे। वो खुद को ठगा हुआ महसूस करने लगे। उनकी बुझी चेतना को हवा देने के लिए पार्टी में मंथन शुरु हुआ। ऐसे में सामने आई कुमार विश्वास की नाराजगी। पार्टी के थिंक टैंक ने कार्यकर्ताओं के जोश को वापस जगाने के लिए कुमार विश्वास की नाराजगी को जरिया बनाया।

सूत्रों के अनुसार जिन विधायकों से सिसोदिया को शिकायत थी उनमें से अमानुतल्लाह खान भी शामिल थे। जिसकी शिकायत वक्फ बोर्ड से भी मिल रही थी। अमानुतल्लाह पर करवाई करने से सिसोदिया और केजरीवाल के संकोच को दूर किया अमानुतल्लाह के बयान से विश्वास की उपजी नाराजगी।

अमानुतल्लाह पर करवाई की गई। विश्वास की नाराजगी को शांत कराया गया। इसी के साथ विश्वास की घर वापसी हो गई। और हो गया आप पार्टी की एक और नाटक का पटाक्षेप।

अन्य सटीक और विश्वशनीय जानकारी के लिए हमारा पेज लाइक करें :-
Loading...

Related Articles